Updates

Hindi Urdu

कर्नाटक के किसानों को कितने रुपए दिए? झट से जवाब मिला, 11,000करोड़

चौकीदार चोर है के नारों के बीच श्री राहुल गांधी जी ने कहा कि ये देखो नया नारा चला है। पहले नारा हुआ करता था- अच्छे दिन- जनता कहती थी आएंगे और गुजरात ने 26 की 26 सीटें नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनने के लिए दी। छोटा काम नहीं किया, 26 की 26 सीटें नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए दी और प्रधानमंत्री ने गुजरात की जनता से कहा, आदिवासियों से कहा, युवाओं से कहा, माताओं-बहनों से कहा- मुझे प्रधानमंत्री मत बनाओ, मुझे 26सीटें दो, मगर मुझे प्रधानमंत्री नहीं बनना है, मुझे चौकीदार बनना है।

By: Administrators
Congress President Shri Rahul Gandhi addressed public meeting in Tapi, Gujarat,

राहुल गांधी ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा  राजीव सातव जीअमित चावड़ा जीआनंद चौधरी जीपूना जी कामत जीसुनिल कामत जी,बिला भाई जीशैलेश परमार जीहमारे कैंडिडेटस तुषार चौधरी जीधर्मेश पटेल जीअशोक अधेवदा जीस्टेज पर बैठे वरिष्ठ नेतागणकांग्रेस के हमारे सब प्यारे कार्यकर्ता साथियोंभाईयो और बहनोंप्रेस के हमारे मित्रोंआप सबका यहाँ बहुत-बहुत स्वागत। इतनी गर्मी में आप सब मेरी बात सुनने आएइसके लिए मैं आपका दिल से बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं।

चौकीदार चोर है के नारों के बीच श्री राहुल गांधी जी ने कहा कि ये देखो नया नारा चला है। पहले नारा हुआ करता था- अच्छे दिन- जनता कहती थी आएंगे और गुजरात ने 26 की 26 सीटें नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनने के लिए दी। छोटा काम नहीं किया, 26 की 26 सीटें नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए दी और प्रधानमंत्री ने गुजरात की जनता से कहाआदिवासियों से कहा, युवाओं से कहा, माताओं-बहनों से कहा- मुझे प्रधानमंत्री मत बनाओमुझे 26सीटें दोमगर मुझे प्रधानमंत्री नहीं बनना हैमुझे चौकीदार बनना है।

RAHUL_k.jpg

यहाँ जो किसान बैठे हैंमैं आपसे पूछना चाहता हूंक्या किसान के घर में चौकीदार दिखता है, (जनता ने कहा - नहीं)। जो यहाँ बेरोजगार युवा आए हैंमैं उनसे पूछना चाहता हूंबेरोजगार युवा के घर के सामने चौकीदार दिखता है- (युवाओं ने कहा - नहीं)। चौकीदार तो अनिल अंबानी के घर के सामने दिखाई देता है। चौकीदार तो मेहुल चौकसीनीरव मोदीविजय माल्याइनके घर के सामने दिखाई देता है। सही बात है ना! तो चौकीदार ने आपको ये नहीं बताया कि वो किसकी चौकीदारी करने जा रहे थे –(जनता ने कहा – अनिल अंबानी कीविजय माल्या कीललित मोदी की)ये देखो!

राफेल मामले में चोरी तो की हैपूरा देश जानता है कि एयरफोर्स से नरेन्द्र मोदी जी ने 30,000 करोड़ रुपए चोरी करके अनिल अंबानी की जेब में डाले। फ्रांस के राष्ट्रपति ने कहा कि हिंदुस्तान के चौकीदार ने मुझे बताया कि 526 करोड़ रुपए का हवाई जहाज 1,600 करोड़ रुपए में खरीदेंगेहिंदुस्तान में मत बनाओ,हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार मत दिलवाओफ्रांस में हवाई जहाज बनवाओमगर अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट देना पड़ेगाफ्रांस के राष्ट्रपति जी ने ये बात बोली। मगर नरेन्द्र मोदी जी ने राफेल मामले में तो छोटी चोरी की है, 30,000 करोड़ रुपए छोटी चोरी है उनके लिए। सबसे बड़ी चोरी नरेन्द्र मोदी जी ने हिंदुस्तान केगुजरात के किसानों से की है। माताओं-बहनों सेकेरोसिन की जो सब्सिडी होती थीवो छीनी है। आपसे कहा कि गैस सिलेंडर आपको दूंगा और माताओं-बहनों से गैस सिलेंडर के लिए ज्यादा पैसा लेते हैं।

मैं आपको बताता हूं चोरी कैसे कीसबसे पहले किसानों से कहा कि मैं कर्जा माफ करुंगा। हुआ कर्जा माफ – (जनता ने कहा - नहीं)। अब देखिएकर्नाटक में किसानों का कर्जा माफ हुआ। मैंने कर्नाटक के मुख्यमंत्री से पूछा कि बताईए आपने कर्नाटक के किसानों को कितने रुपए दिएझट से जवाब मिला, 11,000करोड़ रुपएये कर्नाटक की सरकार ने किसानों को दिए। मतलब आपका कर्जा माफ नहीं कियामतलब 10-15 हजार करोड़ रुपए नरेन्द्र मोदी जी ने आपसे चोरी की। उसके बाद आपसे कहते हैं कि देखिएआपका नुकसान होता हैआपको बीमा की जरुरत हैहिंदुस्तान का पूरा का पूरा इंशोरेंस का ढांचा उन्होंने उन्हीं15 उद्योगपतियों को दिया। अलग-अलग डिस्ट्रिक्ट बांट दिए। जम्मू-कश्मीर की बात करते हैंमगर आपको ये नहीं बताया कि जम्मू-कश्मीर का पूरा का पूरा बीमा का बिजनेस अनिल अंबानी को दे दिया। अलग-अलग डिस्ट्रिक्ट पकड़ा दिएये लो अंबानी जीये लो 15-20 डिस्ट्रिक्टअदानी जी आप ये लो 10-15,सबको अलग-अलग डिस्ट्रिक्ट पकड़ा दिए। नुकसान होता हैआंधी आती हैतूफान आता हैआपकी जेब में से पैसा निकलता है और फिर जब आपको पैसे देने का समय आता हैतो फिर आपको कहते हैं कि आपको पैसा नहीं देंगे। वो तो 10,000 करोड़ रुपए नरेन्द्र मोदी  जी के 15 लोगों को हमने दे दियापहले दे दियाअब आपको बीमा का पैसा नहीं मिलने वाला। आपसे बोनस चोरी कियाएमएसपी नहीं देतेआपको सही दाम नहीं देते और अभी मैंने सिर्फ किसानों की बात कीअभी मैंने नोटबंदी की बात तो शुरु ही नहीं कीगब्बर सिंह टैक्स की बात शुरु ही नहीं कीजहाँ उन्होंने करोडों युवाओं से रोजगार छीनाछोटे दुकानदारों से उनकी जिंदगी छीनी।

हमने निर्णय लिया हैजैसे ही चुनाव जीतेंगेकिसानों के लिए हम दो काम करने जा रहे हैं। मध्यप्रदेशकर्नाटकराजस्थानछत्तीसगढ़पंजाब की बात तो बताई आपको, 2 दिन के अंदर हमने इन राज्यों में कर्जा माफ किया और मैंने आपसे वायदा किया था और मैं वायदा नहीं तोड़ता हूंमैंने वायदा किया थागुजरात में कांग्रेस की सरकार बनाओ, 10 दिन में हम कर्जा माफ करके दिखा देंगे। वो थोड़ी कमी रह गई। गुजरात में आपने पूरी कोशिश कीथोड़ी सी कमी रह गई,सरकार नहीं बनी। मगर मैं किसानों को बताना चाहता हूं, 2019 में हम आपके लिए क्या करना चाहते हैं।

हर साल हिंदुस्तान का बजट बनता है। उसमें सरकार पैसा कहाँ डालेगीपूरा का पूरा देश को बताया जाता है। इस साल हमने निर्णय लिया है कि एक बजट नहीं बनेगादो बजट बनेंगे। एक बजट नेशनल बजट होगादूसरा बजट स्पेशल किसान का बजट होगा। उसमें साल की शुरुआत में ही आपको बता दिया जाएगा कि एमएसपी आपकी इतनी बढ़ाई जाएगीआंधी आएगीतूफान आएगा तो आपको इतना मुआवजा मिलेगा। इन डिस्ट्रिक्ट में हम फूड प्रोसेसिंग के कारखाने लगाए जाएंगेइस प्रकार की टेक्नॉलोजी हम आपको देंगेइतना आपका कर्जा माफ होगा। पूरा का पूरा आपको साल के शुरुआत में ही पता लग जाएगादूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा।

हम किसान को संदेश देना चाहते हैंनरेन्द्र मोदी जी कहते हैं, कि हिंदुस्तान को किसान की कोई जरुरत नहीं। हम आपको संदेश देना चाहते हैं कि हिंदुस्तान किसान के बिना देश चल ही नहीं सकताखड़ा ही नहीं हो सकता और हम आपके साथ खड़े हैंअगर 3 लाख 50 हजार करोड़ सबसे बड़े लोगों का कर्जा माफ हो सकता है तो किसान का भी कर्जा माफ किया जा सकता है। एक छोटा सा सवाल- उनसे जो यहाँ किसान आए हैं। आप अखबार पढ़ते हैंआपने देखा होगा कि अनिल अंबानी ने 45,000 करोड़ रुपए हिंदुस्तान के बैंक का पैसा लियावापस नहीं दिया। विजय माल्य़ा 10,000 करोड़ रुपएमेहुल चौकसी 35,000 करोड़ रुपएमैं आपसे सवाल पूछना चाहता हूं ये जो चोर हैंबैंक से इन्होंने पैसा लियावापस नहीं दियाये जेल नहीं गए। मगर जब गुजरात का किसान जिसने देश को श्वेत क्रांति दीहरित क्रांति दीजब गुजरात का किसान 20,000 रुपए का बैंक लोन लेता है और वापस नहीं दे पाता हैतो उसे जेल में डाल दिया जाता है। क्या ये आपको न्याय लगता हैक्या आपको ठीक लगता है कि अनिल अंबानी जेल से बाहर बैठे और हिंदुस्तान का किसानगुजरात का किसान 20,000 रुपए के लिए जेल में अंदर हो जाएसही लगता है आपकोमुझे भी सही नहीं लगता है। ये अन्याय है और इसलिए हमने घोषणा पत्र में लिख दिया हैहमारा घोषणा पत्र न्याय का घोषणा पत्र हैहमने लिख दिया है, 2019 में जैसे ही कांग्रेस की सरकार बनेगीहम कानून बदल देंगेहिंदुस्तान का कोई भी किसान,गुजरात का कोई भी किसानबैंक लोन लेने के बाद अगर पैसा नहीं लौटाएगाउसे जेल में नहीं डाला जा सकेगा।

मोदी जी कर लो जो करना हैमगर कर्जे के लिए हिंदुस्तान का कोई भी किसान जेल में नहीं जाएगा। आप उनकी चौकीदारी करेंगेहम इनकी रक्षा करेंगे। आपने अपना मन बना लिया है कि आप अनिल अंबानी के चौकीदार हैंमेहुल चौकसी के चौकीदार हैंनीरव मोदी के चौकीदार हैंतो मैंने भी मन बना लिया है,मैं किसानों का हूं। आ जाओ मैदान मेंलड़ लेते हैंदेख लेते हैं कौन जीतेगाअनिल अंबानी जीतेगा या हिंदुस्तान का किसान जीतेगाआपको दो मिनट में पता लग जाएगा। हिंदुस्तान के किसान की शक्ति पता लग जाएगीसमझ आ जाएगा

किसानों के लिएमजदूरों के लिए हमने एक और उपाय निकाला है। उसको हमने न्याय योजना नाम दिया है। न्याय योजनामजेदार बात हैअब सुनिए और ये जो माताएं-बहनें आई हैंमैं आपको बता रहा हूंअच्छी तरह सुनिए। नरेन्द्र मोदी जी ने लाखों करोड़ रुपए हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों को दियामगर आपसे झूठा वायदा किया था कि 15 लाख रुपए दूंगा। याद है ना। मुझे चौकीदार बनाओ, 15 लाख रुपए दो मिनट में बैंक अकाउंट में दूंगा, 56 इंच की छाती हैमैं करके दिखा दूंगा। पता लगा कि 8 बजे रात को चौकीदार कहता है भाईयो और बहनोंमित्रों! ये 500 रुपए का नोट है, 1,000 रुपए का नोट हैइससे थोड़ी समस्या आ रही हैइससे कालाधन इतनी जल्दी से बदला नहीं जा सकतामुझे 2,000 रुपए का नोट चाहिएतो मैं इसको रद्द करने जा रहा हूंमैं गुलाबी वाला2,000 रुपए वाला नोट बनाऊंगा। उसे अदानी का पैसाअंबानी का पैसा आसानी से बदला जाएगातुम्हारा पैसा मैं ले रहा हूं और आपको लाइन में खड़ा कर दिया, 500 रुपए, 1,000 रुपए आपकी जेब से निकाल दिए। कहाँ 15 लाख रुपए देने की बात की थीकहाँ आपसे 500 रुपए, 1,000 रुपए के नोट निकाल लिए।

भाईयो और बहनोंलाइन में आपने अनिल अंबानी को खड़ा देखालाइन में चोर खड़े थेनहीं। लाइन में ईमानदार आदिवासीईमानदार किसानईमानदार युवा खड़े थे। तो 15 लाख रुपए का झूठ बोला ना नरेन्द्र मोदी जी ने। तो मैंने कांग्रेस पार्टी के इकोनॉमिस्टस से से पूछा कि आप मुझे अलग-अलग चीजों के बारे में बोलते हैंअर्थव्यवस्था के बारे में बोलते हैंग्रोथ के बारे में बोलते हैंमुझे एक बात समझाओआप विद्वान लोग हैंमेरे एक सवाल का जवाब देंये नरेन्द्र मोदी जी ने 15 लाख रुपए बोला थाये झूठ थामुझे सच्चाई बताओजिसमें हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुँचाए बिना गरीबों की मदद हो सके। मैं ये समझना चाहता हूं कि हिंदुस्तान के हर गरीब व्यक्ति के बैंक अकाउंट में कांग्रेस पार्टी अगर पैसा डालना चाहे तो कितने रुपए डाल सकती है। मुझे कहते हैं ये आपने क्या पूछ लियामैंने कहा मुझे आप एक नंबर दोमुझे थ्योरी नहीं सुननी। लंबे भाषण नहीं सुननेमुझे आप वो नंबर दोजो मैं हिंदुस्तान के गरीब लोगों के बैंक अकाउंट में अर्थव्यवस्था को नुकसान हुए बिना पैसा डाल दूं। अभी बताने की जरुरत नहीं हैवापस जाओकाम करोदुनिया के इकोनॉमिस्टस से पूछोसबसे जाकर पूछोमगर मुझे एक कागज पर एक नंबर लिख कर दे दो। तीन – चार महीनों में वापस आकर मुझे एक सफेद कागज पर नंबर लिख कर दे दिया – 72,000, ये बड़े चालू होते हैंमैंने उनसे कहा कि ये 72,000 कितने समय में। 10 साल में, 15 साल में, 20 साल मेंकितने समय मेंकहते हैं 72,000रुपए एक साल में। मैंने कहा कि 72,000 रुपए एक साल में कितने लोगों को? 15 लोगों को तो नहीं नाकहते हैं- नहीं। मैंने कहा कितने लोगों को कहते हैं -5 करोड़ परिवारों को, 25 करोड़ लोगों को। मैंने कहा हाँअब काम की बात की आपने। 25 करोड़ लोगों को साल के 72,000 रुपए, 5 साल में 3 लाख 60 हजार रुपएये है सच्चाई। 15 लाख रुपए का वायदा झूठा थातो यहाँ जो किसान आए हैंयहाँ जो मजदूर आए हैंआदिवासी आए हैंदलितबेरोजगार युवा आए हैंमैं आपको बताना चाहता हूंनरेन्द्र मोदी जी ने अनिल अंबानी को 45,000 करोड़ रुपए दिए, पर जैसे ही 2019 में कांग्रेस पार्टी की सरकार आएगी, 20 प्रतिशत हिंदुस्तान के सबसे गरीब लोगों के बैंक अकाउंट में सीधा पैसा डाला जाएगा। सीधा बैंक अकाउंट में, हर महीने आप अपने बैंक अकाउंट को देखेंगेहर महीने उसमें खटक से जैसे मोबाईल फोन बजता हैवहाँ पर पैसा आएगा। साल के 72,000 रुपए, 5 साल के 3 लाख 60 हजार रुपए। ये है कांग्रेस पार्टी का गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइक।         

ये है कांग्रेस पार्टी का गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइकधड़ाक से। हमने मन बना लिया है। नरेन्द्र मोदी जी ने गरीबों पर सर्जिकल स्ट्राइक कियाकिसानों पर सर्जिकल स्ट्राइक कियाबेरोजगार युवाओं पर सर्जिकल स्ट्राइक कियादुकानदारों पर सर्जिकल स्ट्राइक कियाहम गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे।

‘72 हजारगरीबी पर वार’ मैं गारंटी दे रहा हूँ आपको, जैसे मैंने वहाँ पर मध्य प्रदेशराजस्थानमें कहाभईयादस दिन के अंदर कर्जा माफ हो जाएगामैं आपसे कह रहा हूँ। मैं यहाँ आपसे रिश्ता बनाने आया हूँलंबा रिश्ता हैमैं आपसे यहाँ झूठ बोलने नहीं आया हूँ, 3-4 महीने का काम करने नहीं आया हूँमैं आपको बता रहा हूँगारंटी करके बता रहा हूँअनिल अंबानी को उसने 45 हजार करोड़ रुपए दिए हैंजो उसने अनिल अंबानी को दिए हैंमैं आपको देने वाला हूँ। इससे होगा क्या, मैं बताता हूँनरेन्द्र मोदी जी ने जो आपसे पैसा छीनकर निकालाएक तो अनिल अंबानी की जेब में डालाविजय माल्या जैसे लोगों की जेब में डाला। वो ये पैसा हिंदुस्तान से दूसरे देशों में ले गए। पूरा का पूरा पैसाजो नरेन्द्र मोदी जी ने कालेधन से लड़ाई करने की बात की थीपूरा का पैसा ये उठाकर ले गए। पेट्रोल का दाम बढ़ाआपने अपनी जेब से पैसा डालावो सीधा अनिल अंबानी की जेब में गयानीरव मोदी की जेब मे गयालंदन गया। एयरफोर्स से पैसा लियाराफेल, चौकीदार चोरठीक हैअब क्या हुआआपकी जेब से पैसा निकलाजैसे आपकी जेब से पैसा निकलागुजरात के गांव से पैसा निकलासूरत से पैसा निकलाशहरों से पैसा निकलाआपने माल खरीदना बंद कर दिया। आपने शर्ट-पैंटघड़ी मोबाईल फोनसब कुछ आपने खरीदना बंद कर दियाजैसे आपने खरीदना बंद कियावैसे हिंदुस्तान की फैक्ट्रियाँ बंद हो गई। जैसे ही हिंदुस्तान की फैक्ट्रियाँ बंद हो गई,  बेरोजगारी बढ़ गई, 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी आज है, हिंदुस्तान में 24 घंटे में 27 हजार युवाओं से रोजगार चोरी करता है नरेन्द्र मोदी। चौकीदार चोरी करता है।

अब न्याय योजना का पैसा आएगाडायरेक्ट आपकी जेब में जाएगा। एक बात औरयहाँ पर बहुत सारे पुरुष बैठे हैंआप मुझसे गुस्सा मत होनामगर जो पैसा जाएगा, ‘न्याय योजना का ये हमारी माताओं-बहनों के बैंक अकाउंट में जाएगाबाद में मत बोलना। मैं इनके बैंक अकाउंट में डाल रहा हूँसीधा इनके बैंक अकाउंट में जाएगामगर जब इनके बैंक अकाउंट में पैसा जाएगाआप लोग माल खरीदना शुरु करोगेकोई शर्ट खरीदेगासाबुन खरीदेगाटुथ पेस्ट खरीदेगाटुथ ब्रश खरीदेगाशर्टपैंटमोबाईल फोन। जैसे ही आप माल खरीदना शुरु करोगेफैक्ट्रियाँ चालू हो जाएंगीजैसे ही फैक्ट्रियाँ चालू हो जाएंगीबेरोजगारी खत्म हो जाएगीसिंपल सा सिस्टम है।

न्याय योजना सिर्फ आपकी जेब में पैसा नहीं डालेगीन्याय योजना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को जंप स्टार्ट कर देगी। जैसे इंजन स्टार्ट होता है नउसमें पेट्रोल डालते ही चाबी घुमाते ही इंजन स्टार्ट होता हैवैसे ही न्याय योजना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था के इंजन में पेट्रोल डालेगी

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

धर्म

ब्लॉग

अपनी बात

Poll

Should the visiting hours be shifted from the existing 10:00 am - 11:00 am to 3:00 pm - 4:00 pm on all working days?

SUBSCRIBE LATEST NEWS VIA EMAIL

Enter your email address to subscribe and receive notifications of latest News by email.