गोदी मीडिया को घेरते हुए नदीम जावेद ने युवाओं से की भाउक अपील

गोदी मीडिया एकतरफ़ा विरोध के विमर्श से बाहर कब निकलेगा? बहुत सारे लोगों ने फ़ोन और सोशल मीडिया पर अपार समर्थन दिया है। उनके स्नेह का आभार। जीवन का हर दिन नई उम्मीद और संघर्ष का होता है।

By: Watan Samachar Desk
PRESIDENT CONGRESS PARTY MINORITY DEPARTMENT NADEEM JAVED (R) BILAL AHMAD YOUTH CONGRESS LEADER AND Prospective candidates MCD FROM JAIT PUR P-II NEW DELHI

New Delhi: कल इंडिया इस्लामिक कल्चर सेंटर,नई दिल्ली में कुछ गुंडो ने मुझ पर हमला किया । आप की दुआ से बिलकुल सुरक्षित हूँ ।ज़िम्मेदार नागरिक होने के नाते, मैंने फ़ौरन पुलिस स्टेशन में अपनी शिकायत दर्ज कराई। मेरा जन्म जौनपुर जनपद के साहित्यिक , सामाजिक व राजनीतिक परिवार में हुआ ।पिछली तीन नस्लों से पूरा परिवार सामाजिक सरोकार से जुड़ा हुआ है।


मैंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत NSUI के एक साधारण कार्यकर्ता के रूप में की। तत्पश्चात NSUI का प्रदेश व राष्ट्रीय पदाधिकारी एवं NSUI के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में काम करने का सौभाग्य मिला।भारतीय युवा कांग्रेस में भी राष्ट्रीय महासचिव की भूमिका में काम करने का अवसर मिला।


2012  के उ. प्रदेश विधान सभा चुनाव में कांग्रेस नेतृत्व के आशीर्वाद से जौनपुर सदर का प्रत्याशी रहते हुए सफलता अर्जित की। 2012  से  2017  तक जौनपुर सदर विधान सभा क्षेत्र आमजन के दर्द और सरोकारों के संघर्ष के लिए जानी जाती है।हम सबने मिल कर जौनपुर को कांग्रेस के झंडे के साथ
आंदोलनों की पहचान के रूप में खड़ा करने का प्रयास किया। उसका ख़ामियाज़ा भी भुगतना पड़ा।पुलिस उत्पीड़न और  इलाकायी माफ़िया से संघर्ष रोज़ के क़िस्से थे।


कल मेरे ऊपर हुए हमले की निन्दा की जगह मीडिया के एक वर्ग ( गोदी मीडिया) ने मेरे ऊपर ही आरोप लगा दिए। पत्रकारीता का बुनियादी धर्म समझे बिना, जिसमें मेरा पक्ष भी जानना था। कम से कम ये पता कर लेते की जो तथाकथित आरोप लगाने का प्रयास हुआ है ।उसमें साक्ष्य और तथ्य क्या हैं? जिंहोने आरोप लगाए उनकी सामाजिक स्वीकार्यता क्या है ? क्या वो हत्यारे  और अपराधी नहीं है ?


गोदीमीडिया एकतरफ़ा विरोध के विमर्श से बाहर कब निकलेगा? बहुत सारे लोगों ने फ़ोन और सोशल मीडिया पर अपार समर्थन दिया है। उनके स्नेह का आभार। जीवन का हर दिन नई उम्मीद और संघर्ष  का होता है। इसी विचार के साथ हर दिन का प्रारंभ करता हूँ। दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव से पुराना जज़्बाती रिश्ता है। NSUI का परचम चारों सीटों पर फहराये इसी उम्मीद के साथ दिन की शुरुआत कर रहा हूँ।

“ उठो कि ज़िन्दगी का ख़्वाब है हमारे हाथों में
  बढ़ो   कि   इंक़लाब   है  हमारे   हाँथो   में”
(फ़ैज़ अहमद फ़ैज़)

जय हिन्द
नदीम जावेद

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति वतन समाचार उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार वतन समाचार के नहीं हैं, तथा वतन समाचार उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.


You May Also Like

Notify me when new comments are added.

धर्म

ब्लॉग

अपनी बात

Poll

Should the visiting hours be shifted from the existing 10:00 am - 11:00 am to 3:00 pm - 4:00 pm on all working days?

SUBSCRIBE LATEST NEWS VIA EMAIL

Enter your email address to subscribe and receive notifications of latest News by email.