बीजेपी सांसद साध्वी सावित्री बाई फुले ने अपनी ही सरकार पर बोला हमला, 1 अप्रैल से आंदोलन

watansamachar desk
[simple-social-share]


बहराइच से बीजेपी सांसद साध्वी सावित्री बाई फुले ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. साथ ही सरकार पर बेहद गम्भीर आरोप भी लगाए हैं.
उन्होंने कहा है कि भारतीय संविधान व आरक्षण को लेकर बाबा साहब के कर्तव्यों से छेड़छाड़ की जा रही है.
सासद ने 1 अप्रैल को लखनऊ में विरोध प्रदर्शन का भी एलान किया है.
वातन समाचार से बात चीत करते हुए उन्हों ने कहा कि हम भारतीय संविधान आरक्षण बचाओ आंदोलन करने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर हमारे पूर्वजों ने मेहनत ना की होती तो आज हम सांसद नहीं बन सकते थे और अगर आज हम खामोश रहे तो हमारी आने वाली नस्लें हमें माफ नहीं करेंगी.
उन्होंने कहा कि कभी संविधान बदलने की बात हो रही है कभी कहा जा रहा है कि हम संविधान की समीक्षा करेंगे और कभी संविधान को समाप्त करने की बात हो रही है कभी यह कहा जा रहा है कि हम ऐसा कर देंगे कि संविधान रहे ना रहे बराबर है यह निंदनीय है और इसकी जितनी निंदा की जाए वह कम है.
सांसद ने बातचीत में आगे कहा कि हमें इस मुद्दे को लेकर चाहे पूरे प्रदेश या पूरे देश में जाना पड़े हम पीछे नहीं हटेंगे. उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के आरक्षण को आज तक पूरी तरह लागू नहीं किया गया और ना ही आरक्षण में आज तक प्रमोशन की मांग को पूरा किया गया. उन्होंने कहा कि सरकार बनाने का काम बहुजन समाज ही करता है. सावित्रीबाई फुले ने कहा कि आज बहुजन समाज चिंतित है और इसके अधिकारों का हनन हो रहा है.
उन्होंने रोष प्रकट करते हुए कहा कि इस तरह की बातें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी और इसके लिए जन आंदोलन की जरूरत पड़ी तो उसके लिए भी तैयार हूं.
याद रहे कि 2014 के बाद से ही आरक्षण पर सवाल उठ रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट के जरिये अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति एक्ट में कुछ रद्दो बदल किए जाने के बाद लोजपा ने अदालत में पुनः विचार की अर्जी दी है. सावित्रीबाई फुले ने आगे कहा कि अगर लोकतंत्र में हम अपने अधिकार को नहीं मांगेंगे और अधिकार मांगने पर हमें डराया और धमकाया गया तो यह सीधे-सीधे लोकतंत्र का हनन है और हम लोकतंत्र की हत्या और उसका हनन नहीं होने देंगे.

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.


[simple-social-share]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *