Updates

आखिर नावेद हामिद ने क्यों अदा किया उद्धव ठाकरे का शुक्रिया

नावेद हामिद ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा है कि " मुसलमानों को आरक्षण देने के मामले में आप कि (उद्धव ठाकरे) पहल स्वागत योग है. आप (उद्धव ठाकरे) से अनुरोध है कि आप इस सिलसिले में महाराष्ट्र असेम्बली में प्राइवेट मेंबर बिल ले कर आएं. आप के इस क़दम से राज्य में एक नये सामाजिक समीकरण और समाजी ताने बाने की शुरुआत होगी”.

Abdul Mabood
Navaid Hamid President- A I Muslim Majlis e Mushawarat; Sec.- S. A. Council For Minorities; Activist By Choice; A vivid learner. (R) uddhav thackeray president shivsena (L)

क्या देश की राजनीति बदल रही है और बीजेपी के सहयोगी ही अब उस के लिए मुसीबत बन रहे हैं? वह भी अब हिन्दू मुस्लिम के झगडे से परेशान देश के लोगों को शान्ति और सुकून दिलाना चाहते हैं? यह एक अहम सवाल है और यह सवाल अब बीजेपी को अलग थलग कर सकता है. दरअसल ऐसा इस लिए हुआ है क्यों कि अब शिवसेना ने शिक्षा के छेत्र में मुसलमानों को आरक्षण देने की बात कही है.

 शायद अब शिवसेना को यह समझ आ गया है कि हिन्दू मुस्लिम कर के वह अपनी सियासत तो जिन्दा रख सकती है, लेकिन लम्बी पारी नहीं खेल सकती है. शिवसेना के इस बयान का ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस-ए- इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के बाद आल इंडिया मुस्लिम मजलिस ए मुशावरत ने भी स्वागत किया है.

 मुस्लिम अम्ब्रेला बॉडी के अध्यक्ष नावेद हामिद ने शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे का शुक्रिया अदा किया है. नावेद हामिद ऐसे पहले मुस्लिम व्यक्ति हैं जिन्हों ने इस मसले पर उद्धव ठाकरे का शुक्रिया अदा किया है. अभी तक किसी मुस्लिम संस्था की ओर से ओवैसी की पार्टी को छोड़ कर बयान नहीं आया है. शिवसेना ने महाराष्ट्र में अपनी सहयोगी देवेंद्र फडणवीस सरकार का विरोध करते हुए कहा कि वो बॉम्बे हाईकोर्ट द्वारा मुस्लिमों को 5 फीसद कोटा दिए जाने वाले आदेश की अवेहलना कर रही है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि मराठा के साथ धांगड़, कोली और मुस्लिमों को भी आरक्षण दिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि शिवसेना इस मसले पर राज्य और केंद्र सरकार का समर्थन कर सकती है.

नावेद हामिद ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा है कि " मुसलमानों को आरक्षण देने के मामले में आप कि (उद्धव ठाकरे) पहल स्वागत योग है. आप (उद्धव ठाकरे) से अनुरोध है कि आप इस सिलसिले में महाराष्ट्र असेम्बली में प्राइवेट मेंबर बिल ले कर आएं. आप के इस क़दम से राज्य में एक नये सामाजिक समीकरण और समाजी ताने बाने की शुरुआत होगी”.

मुस्लिमों को दिए जाने वाले आरक्षण को लेकर उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर मुस्लिम समुदाय की ओर से जायज मांग उठाई जा रही है, तो उस के बारे में भी सोचना चाहिए.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, शिवसेना प्रमुख के इस बयान का स्वागत करते हुए AIMIM विधायक इम्तियाज जलील ने कहा है कि ये एक सकरात्मक बात है. बीजेपी को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उसके कुछ नेता मुस्लिमों को निशाना बना रहे हैं.  

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

धर्म

ब्लॉग

अपनी बात

Poll

Should the visiting hours be shifted from the existing 10:00 am - 11:00 am to 3:00 pm - 4:00 pm on all working days?

SUBSCRIBE LATEST NEWS VIA EMAIL

Enter your email address to subscribe and receive notifications of latest News by email.