इस व्यक्ति की तरह, आप ऐसा कर के बहुतों का दिल जीत सकते हैं !

watansamachar desk


नई दिल्ली: हम लोग जब किसी की शादी के रिसेप्शन में जाते हैं, तो पैसों का एक लिफाफा जरूर उसे देते हैं, इस से हमारी कोशिश होती है की उस आदमी की मदद हो जिस के यहाँ शादी हो रही है,ताकि उस के बोझ को हल्का किया जा सके,

लेकिन जब अपना कोई अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहा होता है और हम उसे देखने जाते हैं तब कोई लिफाफा हम नहीं ले जाते, जबकि हम शादी के लिफाफे को टाल सकते हैं क्यों की शादी में जितना कम खर्च हो उतना ही बेहतर है, और सब से बेहतर शादी वही है जिस में कम खर्च हो,

जबकि मरीज़ को हमारी ज्यादा जरूरत होती है, जिस वक़्त हम मरीज़ को देखने जाते हैं उस वक्त मरीज के घरवालों को पैसों की सबसे ज्यादा जरूरत होती है,क्या हम सब मिलकर यह नया रिवाज शुरू नहीं कर सकते, कि अब से हम कोई मरीज देखने जाएंगे तो उन की हेल्प करेंगे.
ज्ञात रहे की देश में इस काम का प्रचार बहुत सारी संस्था और आम लोगों ने अभी हाल फिलहाल में शुरू कर दिया है. आप भी अपने समाज में ऐसा कर के लोगों का दिल जीत सकते हैं.

कृपया अगर आप भी सहमत हैं तो इस संदेश को सभी के साथ शेयर करें, धन्यवाद.


क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.



    Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/khanmabood/public_html/watansamachar/wp-content/themes/colormag/content-single.php on line 80

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *